मोबाइल फोन के नुकसान

मोबाइल के अधिक इस्‍तेमाल से आप हो सकते हैं बहरे

आज की जेनेरेशन ही नहीं बल्कि बड़े बूढ़े भी अपने फोन से जिपके रहते है। कई शोध इसका खुलासा कर चुके है कि फोन का ज्यादा प्रयोग सेहत के लिए हानिकारक होता है।..

फोन के लगातार प्रयोग से आंखों पर भी उल्टा प्रभाव पड़ रहा है। फोन की स्क्रीन कम्प्यूटर की स्क्रीन से छोटी होती है जिसकी वजह से मैसेज पढ़ने के लिए आंखों पर ज्यादा जोर देना पड़ता है। मोबाइल फोन से एक सामान्य व्यक्ति की फोकस करने की जो क्षमता होती है उसे प्रभावित करता है। जिस वजह से कई देशों में ड्राइविंग करते वक्त इसका प्रयोग पूरी तरह से निषेध है।

मोबाइल फोन से चिपके रहना दिमाग के लिए खतरनाक

दिन भर मोबाइल फोन से चिपके रहना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। हाल ही में हुए शोध में सामने आया है कि अगर आप हर समय मोबाइल से जुड़े रहते हैं तो यह दिमाग के लिए खतरा हो सकता है।

दिन भर में 15 घंटे से अधिक का समय मोबाइल फोन पर बिताने वाले लोगों को ब्रेन ट्यूमर का जोखिम तीन गुना अधिक होता है। फ्रांस की बोर्डेक्स यूनिवर्सिटी ने अपने शोध में माना गया है कि सेल्स और बिजनेस के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों से लेकर घंटों फोन पर बाते करने वाले युवाओं तक, दिमाग से जुड़े इस खतरे का रिस्क अधिक होता है।

मोबाइल फोन वालों के लिए बुरी खबर! जल्द खराब हो सकती है रीढ़ की हड्डी

आजकल जिसे देखो वही मोबाइल पर मेसेजिंग और चैटिंग में व्यस्त दिखाई देता है। आइफोन के आगमन के बाद लोगों में यह लत तेजी से बढ़ती जा रही है। मोबाइल के बढ़ते शौक से ना सिर्फ लोग अपने परिवार और रिश्तेदारों से कट रहे हैं बल्कि अनजाने में अपनी हेल्थ के साथ भी बहत बड़ा खिलवाड़ कर रहे हैं। जरूरत से ज्यादा फोन का इस्तेमाल करने से ना सिर्फ मस्तिष्क संबंधी रोग होते हैं बल्कि चेहरे पर झुर्रियां आना, चेहरे का ग्लो गायब होना, सिर दर्द, स्मरण शक्ति का कमजोर होना और शरीर में दर्द होना बहुत आम समस्याएं हैं। एक नई रिसर्च में सामने आया है कि ज्यादा फोन का इस्तेमाल करने से रीढ़ की हड्डी कमजोर होती है।

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*